भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, 26 जनवरी के जारी होहि पहिली किस्त

भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, 26 जनवरी के जारी होहि पहिली किस्त

रायपुर। गणतंत्र दिवस के मउका म प्रदेस के मजदूर मन ल सउगात मिलहि। ये दिन भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के पहिली किस्त जारी करे जाहि। सीएम भूपेश बघेल ह बिरस्पत के येकर घोसना करिन।

सरकार ह ये योजना ल लेके अपन तइयारी पूरा कर लेय हे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ह बताइस कि गणतंत्र दिवस दिन योजना के पहिली किस्त जारी होहि।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ह पाछु बछर ये योजना ल सुरु करे रहिस। येकर 30 नवम्बर 2021 तक पंजीयन होइस। आखिरी तक छत्तीसगढ़ म 4 लाख 41 हजार ले जादा भूमिहीन खेतिहर मजदूर मन अपन पंजीयन करा लेय रहिस। पंजीयन के बाद आवेदन के जांच होइस। अधिकारी मन बताइस, जांच अउ दावा-आपत्ति के बाद सही लोगन के सूची जाही करे जाहि। ये सूची म आय लोगन ल राज्य सरकार ये योजना के तहत हर बछर 6 हजार रुपया देहि।

मजदूर न्याय योजना का हरय

बता दन कि भूमिहीन कृषि मजदूर मन ल आर्थिक रुप ल मजबुत बनाय बर छत्तीसगढ़ सरकार ह राजीव गांधी ग्रामीन भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के सुरूआत करे हे। ये योजना के माध्यम ले भूमिहीन कृषि मजदूर मन ल हर बछर 6000 रुपया के मदद देय जाहि।

कोना ले सकहि लाभ ल

भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के लाभ छत्तीसगढ़ के मूल निवासी मन मिलहि। परिवार के पास कृषि भुइयां नई होना चाहि, अइसन परिवार म चरवाहा, बढई, लोहार, मोची, नाई, धोबी अउ पुरोहित जइसे पारंपरिक काम ले जुड़े लोगन ल घलो ये योजना म सामिल करे गेय हे। पउनी-पसारी बेवस्था ले जुड़े परिवार, वनोपज संग्राहक अउ सासन ह समय-समय म अइनस लोगन लाभ मिलहि जेकर कना कोना भुइयां नई हे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.