स्वर्गीय मनोज मण्डावी क्षेत्रवासियों के दिलों में हमेशा राज करेंगे: मुख्यमंत्री

  उनका निधन हम सबके लिए अपूरणीय क्षति 

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल  कांकेर जिले के चारामा में आयोजित कार्यक्रम  50 करोड़ 62 लाख रूपये के 166 विकास कार्योंलोकार्पण एवं भूमिपूजन

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज कांकेर जिले के चारामा में आयोजित कार्यक्रम में 50 करोड़ 62 लाख रूपये के 166 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इस अवसर पर उन्होंने भानुप्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष स्वर्गीय मनोज सिंह मण्डावी को श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके साथ बिताये पलों को याद किया। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय  मनोज मण्डावी जब मध्यप्रदेश विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए, तब से हमारा साथ रहा, उनसे अंतिम बार इस महीने के 07 तारीख को ग्राम नाथिया नवागांव में स्थापित लघु धान्य प्रसंस्करण एवं मूल्य संवर्धन उत्पाद इकाई के लोकार्पण अवसर पर मुलाकात हुई थी। इस कार्यक्रम में दो मिनट का मौन रखकर स्वर्गीय  मनोज मण्डावी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वर्गीय मनोज मंडावी को बस्तर एवं आदिवासियों के संबंध में गहरी समझ थी। वे शिक्षा, स्वास्थ्य और किसानों की आय में वृद्धि पर ध्यान देते थे। अपनी बात को वे पूरी दृढ़ता के साथ रखते थे तथा अपने क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा चिंतित रहते थे। भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान उनके द्वारा भानुप्रतापपुर तहसील के ग्राम भानबेड़ा के कार्यक्रम में डोंगरकट्टा गांव के किसानों की समस्या बताई गई थी, इस गांव के 150 से अधिक किसानों का राजस्व रिकार्ड जप्त हुआ था, जिसे वापस नहीं किया गया था, जिसके कारण ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं का भी लाभ नहीं मिल पा रहा था। समस्या की जानकारी मिलते ही उसके निराकरण के लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों को निर्देशित किया गया, वर्तमान में डोंगरकट्टा गांव का राजस्व रिकार्ड वापस हो चुका है, इससे ग्रामीण बहुत खुश हैं और उन्होंने दिवाली एक साथ मनाया। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि स्वर्गीय श्री मनोज मण्डावी की कमी की भरपाई नहीं हो सकती, वे हमेशा हमारी स्मृति में जीवित रहेंगे। भानुप्रतापपुर क्षेत्रवासियों के दिलों में वे हमेशा राज करेंगे, उनके योगदान को कोई मिटा नहीं सकता। वे क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहे, उनका असमय जाना उनके परिवार सहित हम सबके लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर उनकी आत्मा को अपने श्री-चरणों में स्थान दें तथा उनके परिवार को दुःख की इस घड़ी को सहने की क्षमता प्रदान करें।

छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने स्वर्गीय  मनोज मण्डावी को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि वे अपने क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा चिंतित रहते थे। उनके योगदान को कभी नहीं भुलाया जा सकता, उन्होंने जो सपना देखा था, उन कार्यों का आज मुख्यमंत्री जी द्वारा लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया गया है।  महंत ने कहा कि व्यक्ति के जाने के बाद उनके काम एवं योगदान को याद किया जाता है। स्वर्गीय मनोज मण्डावी ने अपने क्षेत्र के विकास के लिए अनेकों कार्य किये तथा समाज व गरीबों की सेवा की। ईश्वर उनकी आत्मा को दिव्यज्योति में स्थान दें तथा उनके परिवार को दुःख की इस घड़ी को सहने की क्षमता प्रदान करें। कार्यक्रम को महिला एवं बाल विकास मंत्री तथा जिले की प्रभारी मंत्री  अनिला भेंड़िया, उद्योग मंत्री  कवासी लखमा, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री अमरजीत भगत, संसदीय सचिव श्री शिशुपाल सोरी और राज्यसभा के पूर्व सांसद श्री पी.एल. पुनिया ने भी संबोधित किया तथा स्वर्गीय श्री मनोज मण्डावी को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए क्षेत्र के विकास के लिए उनके योगदान को याद किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *