कर्जमाफी ले असान, पूरा होए लगिस अरमान

कांकेर जिला के 64 हजार किसान मन के 228 करोड़ 12 लाख रूपिया के कृषि ऋण माफ

रायपुर, किसान मन के ’नान्हे किसानी करजा’ (अल्पकालिक कृषि ऋण) राज्य शासन डाहर ले माफ करे ले किसान मन के बढ़वार के रद्दा असान होगिस हे, बाँचत पइसा ल किसान अपन अरमान पूरा करे म लगावत हे। कोनो किसान अपन खेती ल पोठ करत हे, त कोनो बोर खनवा के अपन घरू जिनगी ल खुशहाल बनाए म लगे त कोनो गहना-गूठा बिसा के बछर -बछर के अपन सूते सपना ल जगोवत हे। कांकेर जिला के ग्राम तालाकुर्रा के किसान हिरामन भुआर्य ह कहिन के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के कर्जा माफी योजना ह उन्कर उत्साह ल दुगुना कर दीस। उन मन बताइन के बारदेवरी समिति ले 20 हजार रूपिया के नान्हे करजा लिए रहेंव, जेन ल समिति म समर्थन मूल्य म धान बेचके करजा पटा दे रहेंव, फेर राज शासन कोति ले कर्जा माफी योजना के तहत पइसा ल उन्कर खाता म फेर जमा करा दिए गीस जेकर ले उन ल अब्बड़ खुसी होवत हे।

ग्राम गौरगांव के किसान गणेश राम निषाद बताइन कि उन्कर ददा पुनीत निषाद के नाम पर सहकारी समिति नाथिया नवागांव ले 21 हजार रूपिया के नान्हे करजा लिये गे रिहिसे, जेला समर्थन मूल्य म धान विक्री करके उही समे चुका दिए रहेन।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के सरकार बने के पाछू उन्कर घोषणा के अनुरूप ये राशि किसान मन के खाता म दूसरइया फेर वापस कर दिए गईस। श्री गणेश राम निषाद ह बताइन कि खरीफ सीजन में खेती किसानी बर घलो उन्मन 16 हजार रूपिया के नान्हे करजा लया हे।

उल्लेखनीय हवय के कांकेर जिला म 64 हजार 656 किसान मन के 228 करोड़ 12 लाख 65 हजार रूपिया, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक डाहर ले 56 हजार 641 किसान मन के 183 करोड़ 98 लाख 13 हजार रूपिया, जेमा बेरा -कुबेरा (कालातीत अउ अकालातीत) दूनो किसम के करजा संघरे हावय।

चटकारा
बिसन्तिन:- आज तो अब्बड़ मुचमुचाए बानी दिखत हस पाँचो, पंचराम भैया ह ससन भर मया पझराए हे तइसे कस लागत हे।
पाँचो:- त, कर्जामाफी के पइसा ले नवा खिनवा लाए हे, कान म अतेक बड़ ओरमे हालत हे तेला नइ देखत या।
बिसन्तिन:- अइ हौ या, हमरे घर के गड़ौना ह जिनगी म कुछू नइ करिस या, चुर-चुर के जिए बर परगे, का करबे।

Related posts