अनाथ लइका मन ल मिलिस रू 23 लाख के सहारा, परिवार ल हर महिना पेंशन

कमइया ददा के उदुपहा मृत्यु होए के पीछू अनाथ होए बच्ची मन के भविष्य अब सुरक्षित हो गे हवय। जिला प्रशासन के सावचेत होए के बाद बीते 13 अप्रैल के करंेट लगे ले मृत कमइया ग्राम ढनढनी निवासी गुमान रजक के दू झिन बेटी ऐश्वर्या रजक (04 बछर ) अउ खुशबू रजक (07 महिना) के नाम से श्री सीमेंट डाहर ले दस-दस लाख रूपिया के एफ.डी. कराए गे हवय। संगे संग कर्मचारी राज्य बीमा निगम के योजना के तहत मृतक के गोसइन ल जिनगी भर लगभग 12 हजार रूपिया के पेंशन अउ कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के ई.डी.एल.आई. योजना के तहत अढ़ई लाख रूपिया के रकम एकमुश्त मिलही। एकर पहिली घलो कमइया के मौत के बाद श्री सीमेंट प्रबंधन डाहर ले मृतक के परिवार ल पचास हजार रूपिया के तात्कालिक सहायता घलो देहे गे रिहिसे।




हम आप ल बता देवन कि निजी क्षेत्र में संचालित श्री सीमेंट के निर्माणाधीन आवासीय परिसर म काम करते करत जी.डी.सी.एल.कंपनी के ठेका श्रमिक गुमान रजक के मौत ड्रिल मशीन के करंट लगे ले होगे रिहिसे। बलौदाबाजार तहसील कार्यालय में आज तहसीलदार श्री गौतम सिंह के आगू म मृतक के गोसइन गायत्री बाई रजक के दूनों बेटी मन बर 10-10 लाख रूपिया के एफ.डी. के प्रमाण-पत्र प्रदान करे गइस। श्री सीमेंट संयंत्र के प्रमुख श्री रवि तिवारी अउ राजेश शर्मा ह बताइन कि मृतक के दू झिन बेटी मन के नाम से करे गे एफ.डी. के पाके के बाद उन मन ल लगभग 75 लाख रूपिया की राशि मिलही। मृतक के गोसइन के निवेदन म बेटी मन के 18 बछर के होए के समे बर एफ.डी.कराए गे हवय। उन मन बताइन कि श्री सीमेन्ट द्वारा निर्मित स्कूल म मृतक के पत्नी ल योग्यता अनुसार रोजगार देहे बर प्राथमिकता घलो दिए जाही। ए अवसर म संयंत्र के डीजीएम अनिल कुमार पाठक अउ मृतक के परिवार के आने सदस्य मन तको रिहिन हे।



चटकारा
झिथरी:- चेक ल बने चेक करके देखे हस कतेक अकन पइसा भरा हे तेला।
टेटकी:- चेक तो करे हौं फेर बड़े बड़े मुसुवा मन के का भरोसा दीदी , कब तरी तरी कोरा लेथे राजा तको गम नइ पावय हम तो फेर ……।



Related posts