स्टीविया के खेती करके, किसान कर सकत हें बनेच कमई

इफको किसान, आप मन जानत हवव के “स्टीविया” आयुर्वेदिक पौधा हे। जऊन ल “मीठी तुलसी” घलोक कहे जाथे। स्टीविया पौधा के मुख्य विशेषता ये हे के एखर मीठ पत्ति मन मधुमेह (सुगर) के रोगी मन बर लाभकारी हे। अभी हाल म भारतीय बाजार म ही स्टीविया ले बने करीबन 100 ले जादा समान मौजूद हे अऊ कई बड़े कंपनी मन स्टीविया के बड़ मात्रा म खरीदारी करत हें। स्टीविया के खेती भारत म पुणे, रायपुर, बैंगलोर, हरियाणा, इंदौर, अऊ उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सा म करे जात हे। एखर खेती एक बार करे के बाद किसान कम ले कम 5 साल तक अच्छा आमदनी ले सकत
हें। एखर पत्‍ती मन थोक म करीबन 300- रुपिया किलो अउर चिल्‍हर बाजार म करीबन 500-600 रुपिया प्रति किलो बेंचाथे। पाछू कुछ बछर म एकर व्यापार अड़बड़ बाढ़त हे अऊ किसान स्टीविया के खेती करके अच्छा मुनाफा ले सकत हें।



Related posts