वेज ग्राफ्टिंग तकनीक ले मलिहाबादी बिही के नर्सरी होवत हे तियार

आजकल बागवानी किसान भाइ मन के रुझान बिही के बगईचा कोति बाढ़े हे। लखनऊ के मलिहाबाद क्षेत्र म बिही के बाग लगाये के संगें-संग बिही के वेज ग्राफ्टिंग तकनीक ले तैयार बिही के पौधा के नर्सरी घलोक किसान मन बर फायदे के सौदा बनत हे। सीआईएसएच संस्थान कोति ले वेज ग्राफ्टिंग तकनीक के खोज करे गए हे। ए संस्थान म किसान मन ल ग्राफ्टिंग तकनीक के प्रशिक्षण घलोक देहे जाथे। संस्थान कोति ले विकसित करे गए बिही के चार किस्म हे- ललित, श्वेता, धवल अउ लालिमा। लालिमा ल छोड़के आन तीनों किस्म मन ल पूरा देश म कहूंचो लगाए जा सकत हे।



Related posts