बगियाये हें मनरेगा मजदूर : तीन साल म छै रुपिया भर के बढ़ोतरी

असर चुनाव म परे के संभावना

ग्रामीण विकास मंत्रालय ह 29 मार्च 2019 के दिन अधिसूचना जारी करे रहिस तेकर मुताबिक साल 2019-20 बर मनरेगा मजदूर मन के दर तय करे गए हे। येमा कई राज्य मन म मनरेगा मजदूरी न्‍यूनतम खेतिहर मजदूरी ले कम हे अऊ कई राज्य मन म ये न्‍यूनतम खेतिहर मजदूरी ले जादा घलोक हे। मनरेगा मजदूर मन के मजदूरी के निर्धारण महात्मा गाँधी राष्टीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम 2005 (2005 के 42) के धारा 6 के उपधारा 1 के अनुसार करे जाथे। हर साल मजदूरी के निर्धारण करे जाथे। छत्‍तीसगढ़ म मनरेगा मजदूरी अभी तक 174 रुपए तय रहिस। जऊन ल दू रुपिया बढ़ाके 176 रुपए करे गए हे। एखर से अब मजदूर मन ल हर महिना 60 रुपिया के अकतहा लाभ मिलही। जनता मन के कहना हे कि छत्‍तीसगढ़ म मनरेगा मजदूरी कम से कम 190 रूपिया होना रहिसे।




समाचार पत्र मन के बताती केन्‍द्र सरकार ह कई प्रदेश म मनरेगा रोजी 10 ले 15 रुपिया तक के बढ़ाए हे उहें छत्‍तीसगढ़ म दूयेच रूपिया बढ़ा जाए के सवाल म बताए जाथे के ये पहली पईत नइ हे पाछू साल घलोक प्रदेश के मजदूर मन के दर सिरिफ दूयेच रुपिया बढाए गए रहिस। सरलग तीन साल ले केन्द्र सरकार कोति ले प्रदेश के मनरेगा मजदूर मन के रोजी बने सहिन बढ़ाए नइ जात हे। राज्‍य के लगभग तीस लाख ले जादा मनरेगा पंजीकृत मजदूर मन रोजी बने सहिन नइ बढ़ाए के सेती अंधेर बगियाये हें जेकर असर चुनाव म परे के संभावना हे।



Related posts